नरम हुआ मालदीव का रुख, अभी रुके रहेंगे भारत के दोनों आर्मी हेलीकॉप्टर

कई दौर की बातचीत के बाद मालदीव की तरफ से इन दोनों हेलीकॉप्टरों और इनके चालक दल तथा सहायक स्टाफ को अपने यहां रखने के संकेत मिले हैं.

भाषा
Updated: August 26, 2018, 11:15 PM IST
नरम हुआ मालदीव का रुख, अभी रुके रहेंगे भारत के दोनों आर्मी हेलीकॉप्टर
प्रधानमंत्री मोदी और मालदीव के राष्ट्रपति अब्दुल्ला यमीन की File Photo
भाषा
Updated: August 26, 2018, 11:15 PM IST
भारत द्वारा मालदीव को उपहार में दिए गए दो भारतीय सैन्य हेलीकॉप्टर एवं उसके चालक दल के 48 सदस्य और सहायक स्टाफ अभी कुछ और महीने द्वीपीय देश में रुके रह सकते हैं. राजनयिक और सैन्य सूत्रों ने बताया कि द्वीप देश में हेलीकॉप्टरों की लगातार तैनाती पर बातचीत ‘‘सकारात्मक’’ रही.

मालदीव को 2013 में दिए गए इन दोनों हेलीकॉप्टरों की पट्टा अवधि पूरी हो चुकी है और उसने भारत से कहा था कि वह उन्हें अपने यहां और नहीं रखना चाहेगा. सूत्रों ने बताया कि कई दौर की बातचीत के बाद मालदीव की तरफ से इन दोनों हेलीकॉप्टरों और इनके चालक दल तथा सहायक स्टाफ को अपने यहां रखने के संकेत मिले हैं.

उन्होंने कहा कि मुद्दे पर दोनों देशों के बीच बातचीत का प्रारंभिक परिणाम सकारात्मक रहा है और संभावना है कि हेलीकॉप्टर वहां लंबी अवधि तक रहेंगे. तटरक्षक बल द्वारा परिचालित एक हेलीकॉप्टर की पट्टा अवधि इस साल के शुरू में पूरी हो गई थी, जबकि भारतीय नौसेना द्वारा संचालित दूसरे हेलीकॉप्टर की पट्टा अवधि 30 जून को पूरी हो चुकी है.

इनमें से एक हेलीकाप्टर हिन्द महासागर के दक्षिणतम अड्डू द्वीप तथा दूसरा हेलीकॉप्टर सामरिक दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण लम्मू क्षेत्र में तैनात है.

मालदीव में आपातकाल लगाए जाने के बाद दोनों देशों के संबंधों में तल्खी आने के बीच मालदीव सरकार ने संकेत दिया था कि वह इन दोनों हेलीकॉप्टरों और इनके स्टाफ को अपने यहां रखने के पट्टा समझौते का नवीनीकरण नहीं करेगी.

सूत्रों ने कहा कि मालदीव अब भारतीय नौसेना, तटरक्षक बल और हेलीकॉप्टर निर्माता हिन्दुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड के सहायक स्टाफ के वीजा की अवधि बढ़ा रहा है.

नया घटनाक्रम ऐसे समय हुआ है जब मालदीव में एक महीने से कम समय बाद राष्ट्रपति का चुनाव होने वाला है और घटनाक्रम को दोनों देशों के बीच संबंधों में तल्खी दूर होने के रूप में देखा जा रहा है.
Loading...
ये भी पढ़ें: मालदीव पर हमला करने के स्वामी के बयान से मोदी सरकार ने बनाई दूरी
IBN7 खबर हुआ News18 इंडिया - Hindi News से जुड़े लगातार अपडेट हासिल करे और पढ़े Delhi News in Hindi.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...