होम » वीडियो

HTP : क्या मन्दिरों की परिक्रमा से राहुल मुसलमानों को साथ रख पाएँगे?

शो11:22 PM IST Aug 29, 2018

आप देख रहे हैं NEWS18 इंडिया पर अपना फेवरिट डिबेट शो हम तो पूछेंगे. सुमित अवस्थी के साथ. राहुल की कांग्रेस असमंजस में है. एक तरफ़ 2014 के चुनावों के नतीजे हैं. तो दूसरी तरफ उस हार की वजह बताने वाली एंटनी कमेटी की रिपोर्ट. एक तरफ परम्परागत मुस्लिम वोटबैंक है. तो दूसरी तरफ 2019 जीतने की चुनौती. इन्हीं चुनौतियों के बीच कांग्रेस को हिन्दुओं की राजनीति करने में चैम्पियन BJP से पार पाना है. यहीं से शुरू होता है कांग्रेस का असमंजस. इफ़्तार पार्टी करने और मुस्लिम टोपी पहनने वाले राहुल 31 अगस्त को कैलाश मानसरोवर की यात्रा करने वाले हैं. राहुल की ये यात्रा विशुद्ध धार्मिक यात्रा होनी चाहिए. उनकी नीयत पर सवाल उठाना ठीक नहीं है. लेकिन हिन्दुत्व की ध्वजा लेकर चलने वाली BJP ने राहुल की यात्रा पर फ़ौरन सवाल खड़े कर दिए हैं. RSS और BJP में मुस्लिम ब्रदरहुड, ISIS से लेकर नफ़रत देखने वाले राहुल अगर कैलाश मानसरोवर यात्रा से हिन्दुओं को साथ लाने का दाँव चल रहे हैं. तो उनकी इस रणनीति पर कई सवाल खड़े होते हैं. जो हम पूछेंगे.

सुमित अवस्थी

आप देख रहे हैं NEWS18 इंडिया पर अपना फेवरिट डिबेट शो हम तो पूछेंगे. सुमित अवस्थी के साथ. राहुल की कांग्रेस असमंजस में है. एक तरफ़ 2014 के चुनावों के नतीजे हैं. तो दूसरी तरफ उस हार की वजह बताने वाली एंटनी कमेटी की रिपोर्ट. एक तरफ परम्परागत मुस्लिम वोटबैंक है. तो दूसरी तरफ 2019 जीतने की चुनौती. इन्हीं चुनौतियों के बीच कांग्रेस को हिन्दुओं की राजनीति करने में चैम्पियन BJP से पार पाना है. यहीं से शुरू होता है कांग्रेस का असमंजस. इफ़्तार पार्टी करने और मुस्लिम टोपी पहनने वाले राहुल 31 अगस्त को कैलाश मानसरोवर की यात्रा करने वाले हैं. राहुल की ये यात्रा विशुद्ध धार्मिक यात्रा होनी चाहिए. उनकी नीयत पर सवाल उठाना ठीक नहीं है. लेकिन हिन्दुत्व की ध्वजा लेकर चलने वाली BJP ने राहुल की यात्रा पर फ़ौरन सवाल खड़े कर दिए हैं. RSS और BJP में मुस्लिम ब्रदरहुड, ISIS से लेकर नफ़रत देखने वाले राहुल अगर कैलाश मानसरोवर यात्रा से हिन्दुओं को साथ लाने का दाँव चल रहे हैं. तो उनकी इस रणनीति पर कई सवाल खड़े होते हैं. जो हम पूछेंगे.

Latest Live TV