होम » वीडियो

कचरे का डिब्बा अब खुद बोलेगा कि मुझे खाली करो, बहुत भर गया हूं

OMG06:32 PM IST Aug 29, 2018

मेट्रो शहर में अक्सर ही रास्ते में गुजरते हुए कचरे से भरे नगर निगम के बड़े-बड़े डस्टबिन दिखाई पड़ते हैं. कुछ को समय-समय उठाया जाता है, जबकि कुछ जानकारी निगम को नहीं मिल पाती, जिसके कारण कूड़ा सड़ता रहता है और शहर में प्रदूषण फैलाता रहता है. लेकिन अब हैदराबाद के पॉलिटेक्निक स्टूडेंट्स ने ऐसा स्मार्ट डस्टबिन बनाया है, जो खुद कचरे की स्थिति की रिपोर्ट समय-समय पर भेजा करेगा. डस्टबिन में जैसे ही कचरा फुल होगा, वो हेडक्वार्टर को खाली करने का संदेश भेजेगा. पॉलिटेक्निक स्टूडेंट्स ने इस डस्टबिन में कुछ इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस लगाए हैं. वह इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस एक ऐप के जरिए कंप्यूटर से जुड़ा है. कचरा भर जाने पर यही इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस निगम दफ्तर को अपने भर जाने का मैसेज भेजेगा. कंप्यूटर पर मैसेज आने के बाद निगम के सफाई कर्मचारी डस्टबिन को खाली कर देंगे. देखने में तो यह कॉन्सेप्ट बड़ा ही साधारण है, लेकिन बड़े काम का है. इस मामले में पॉलिटेक्निक स्टूडेंट्स को गाइड करने वाले असिस्टेंट प्रोफेसर का कहना है कि ये नायाब आइडिया है और वो कोशिश कर रहे हैं कि जीएचएमसी इस सिस्टम को हैदराबाद के सभी डस्टबिन में लगाए ताकि किसी डस्टबिन से कचरा बाहर ना आए.

news18 hindi

मेट्रो शहर में अक्सर ही रास्ते में गुजरते हुए कचरे से भरे नगर निगम के बड़े-बड़े डस्टबिन दिखाई पड़ते हैं. कुछ को समय-समय उठाया जाता है, जबकि कुछ जानकारी निगम को नहीं मिल पाती, जिसके कारण कूड़ा सड़ता रहता है और शहर में प्रदूषण फैलाता रहता है. लेकिन अब हैदराबाद के पॉलिटेक्निक स्टूडेंट्स ने ऐसा स्मार्ट डस्टबिन बनाया है, जो खुद कचरे की स्थिति की रिपोर्ट समय-समय पर भेजा करेगा. डस्टबिन में जैसे ही कचरा फुल होगा, वो हेडक्वार्टर को खाली करने का संदेश भेजेगा. पॉलिटेक्निक स्टूडेंट्स ने इस डस्टबिन में कुछ इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस लगाए हैं. वह इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस एक ऐप के जरिए कंप्यूटर से जुड़ा है. कचरा भर जाने पर यही इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस निगम दफ्तर को अपने भर जाने का मैसेज भेजेगा. कंप्यूटर पर मैसेज आने के बाद निगम के सफाई कर्मचारी डस्टबिन को खाली कर देंगे. देखने में तो यह कॉन्सेप्ट बड़ा ही साधारण है, लेकिन बड़े काम का है. इस मामले में पॉलिटेक्निक स्टूडेंट्स को गाइड करने वाले असिस्टेंट प्रोफेसर का कहना है कि ये नायाब आइडिया है और वो कोशिश कर रहे हैं कि जीएचएमसी इस सिस्टम को हैदराबाद के सभी डस्टबिन में लगाए ताकि किसी डस्टबिन से कचरा बाहर ना आए.

Latest Live TV